Course Review: Basic Neurobiology/Neuroscience at NCBS Bangalore

Basic Neurobiology course offered at NCBS Bangalore consists of 4 modules of around 6 lectures each, plus a couple of labs on electrical models of cells. Each lecture is around 90 minutes. Usually there are three lectures a week but sometimes two lectures and a tutorial or lab-session is also organized. The TA support is … Continue reading Course Review: Basic Neurobiology/Neuroscience at NCBS Bangalore

Arithmetic and marriage

Few days ago, I read a newspaper story. On suspecting that bridegrooms is illiterate, the bride put him under an arithmetic test: "how much is 15 + 6?". And when the answer given was 17, she called off the marriage. A few childhood memories popped up. When I was a kid, my father asked me … Continue reading Arithmetic and marriage

वो आँखे

टखनों पर रखे अपने सर को रोकते अपने कापते हाथो को, उस अँधेरे कमरे में वो आँखे देख रही है, प्रकाश की वो शिखा जो जल रही है उस केरोसीन से जो घर में अब नहीं है बचा। वेदना तो भी दया आती नहीं , देखकर उसकी दशा। जो जी रही है केवल मृत्यु के … Continue reading वो आँखे

बचपन याद आता है

मुझे बचपन याद आता है। सुबह सवेरे उठना और नहाना मंदिर में जाना और जल चढाना। पाठशाला का रास्ता, किताबे और बस्ता। मेले में गुब्बारे जलेबी पर मचलना, नहाना नहर में और इमली पर चढ़ना। खरबूजों का खेत अकसर सताता है। मुझे बचपन याद आता है। जुते खेतो में बिचरना, फिसलकर मेड से गिरना, भैय्या … Continue reading बचपन याद आता है

ब्लैक-बोर्ड

खिड़की से वाहर देखा, नजरे दूर तक जाती है। और छितिज पर टिक जाती है। वहा शून्यता का आभाष होता है। और वापस मैं देख लेता हूं, वही ब्लैक-बोर्ड क्लास का। जो रोज कुछ बताता है। क्या है ? क्या ज्ञात है। क्यों है , क्या अज्ञात है। -- जनबरी २०, २००६